।। चाय तमाखुन ख्वै इंसान ।।

“रघुपति राघव राजा- राम पतित पावन सीता- राम” चाय बिड़ी सिगरेट तमाखू मनखी सुबिना तक नी चाखु। घरु घरु से

Read more